धर्मनिरपेक्षता: एक सुविधाजनक छलावरण

15 अगस्त 1947 को भारत में एक नया युद्ध आरम्भ हुआ, वर्चस्व का युद्ध | आज लोग धर्मनिरपेक्षता की बात करते हैं लेकिन इसका अर्थ नहीं समझते | धर्मनिरपेक्षता का अर्थ होता है “धार्मिक संस्थानों से राज्य के अलग होने का सिद्धांत “| लेकिन आज मुस्लमान के पास शरिया-आधारित मुस्लिम Read more…

1962: युद्ध या साजिश??

आज से 57 साल 8 महीने पहले 20 अक्टूबर 1962 के युद्ध में भारत की पराजय का अध्याय जुड़ गया था | हमारी शिक्षा व्यवस्था ने युवाओं को कभी ये नहीं बताय की पराजय क्यों हुई | तथ्यों को ध्यान से देखने पर पता लगता है कि ये सेना की Read more…

India की खोज: सबसे बड़ा झूठ

इतिहास सदैव ही प्रेरणा दायक होता है | फिर चाहे वह सामाजिक रूप से अनुकूल रहा हो या प्रतिकूल प्रत्येक व्यक्ति सदैव ही उससे सीखता रहता है और आगे बढ़ता है | जीवन, समय चक्र की तरह अपनी गति से आगे की ओर बढ़ता है और अपने आपको विकसित करता Read more…